Mujhe Tumse Mohabbat Hai…

मुह्बत ख़ुफ़ होती है!

कभी नदाना करती हैं
कभी नहीं हैती है

मुजू मालोम शेय!

बोहत नुक्सान कार्ती है
ये घर वीरान कार्ती हैं

जहां माननीय रोनकैन जिंदा
वू दिल सनसन कार्ती है

मगर एब सूर्य मेरी हामडैम!
मेरा करि मुबबत है

मुहम्मद वो हकीकत है!

जो दिल अबद करती हैं
सबी को शैड़ कृति है
मार्रोन को याद करें है

मुहम्मद ख़ौफ़ कब से है
मुबाद रोग कब से है

ये मार्शम है मेसाह है है
ये दीपक है ये दीया है

चलो आशा हुआ जान!
गया मुख्य जान ये जान!
सुनो फर घूर से जान!

मुजु तुमसे मुहम्मद है

फ़ातमीया फातिमीया

Wo bewafa kaise hua.?

खात अपनी छाटन का सिलसिला काई हुआ
तू से मुझ में जजाब था मुझ से जुदा काई हुआ
वो जो सिरीफ तेरे और केवल मुझे एक बात बात थी
आओ सोचिन सेहर हमें ते आना काई हुआ
चुभ गैलिन दिखने में तूती ख्वाहिशोन की किरकियान
क्या पसंद दिल टूटनी का हथ्ससी काशी हुआ
जो रंग-ए-जान-तो किली मित्र है अब धोखेर फेयर कार
सोचत हूने कश्मीर वो बेवाफा काई हुआ …

Aye Mohabbat..

ऐ मोहब्बत तेरे अंजम से रोना आया
जेन क्युन आम तेरे नाम से रोना अया,

यू के लिए उसे शाम उमड मुझे गजार जाति है।
आज कुछ बात करने के लिए आइ से शाम पे रोना गया है।

कभी तक्षक, कबिठी, कबी दुनया का जिला,
मंज़िल-ए-इशाक के हर काम से रोना अया

जब हुआ ज़माना मुझे मोहबत का ज़िक्र
मुझ आफ़ें दिल-ए-नाकाम पे रोना अया …

Romantic Shayari

Mujhe pata nahin kya ho jata hai,
neend aati nahin or chain kho jata hai,
phir dil bechain ho jata hai,
or khwaab kuch aisa aata hai,
ki aap ka hath hamare hathon mein,
or sar hamare kandhe pe nazar aata hai…
Manpreet Singh

Kya saza teri kya kasoor humara
Jannat jahan ko tune dojak ki aag se jalaya
Kaash teri aankhon ke vaade meri palko tak na baaste
Teri yaadon ki baarish sawaan ki tarah na barasti
Kaash khayalon ke dariya ko tum saahil na banate
Dil churake na dil todte to ye bebasi na hoti
Pyaar ke khel me teri jeet aur meri haar na hoti…
Asha

Girl Friend Mai Kya Janu…

एक भी हाय है मेरी “मित्र”
लड़की के दोस्त माई की जानू
किसे गरम है “प्यार” भला इसको मी की जानू
माई ते तेरे प्यार की खुसबो दिल से हाचिन्हु।

तेरी मुहब्बत ऐसी है फोलो माई जईस गुलाब
माई किटना भी करून तांग रहती है कठिन है।
जब भी कर रहे दिल से यदा
तुरांतन एक जाति है यादें कॉल के साथ

सपन मै रोज़ आती है मुंह बहुत सती है है
तेरा satana प्यार जतना कर रहे हैं pagal diwana
मेरे गले से लिपत कर भी करती है जी भर करे प्यार
तुझ में कोई भी नहीं करो ही इटना प्यार

%d bloggers like this: